Categories
Authors List
Discount
Buy More, Save More!
> Minimum 10% discount on all orders
> 15% discount if the order amount is over Rs. 8000
> 20% discount if the order amount is over Rs. 25,000
--
Kushal Vakta Kaise Bane
Lav Kumar Sinh
Author Lav Kumar Sinh
Publisher Pustak Mahal
ISBN 9788122315547
No. Of Pages 155
Edition 2015
Format Paperback
Language Hindi
Price रु 195.00
Discount(%) 0.00
Quantity
Discount
Buy More, Save More!
Minimum 10% discount on all orders
15% discount if the order amount is over Rs. 8000
20% discount if the order amount is over Rs. 25,000
635844601793555868.jpg 635844601793555868.jpg 635844601793555868.jpg
 

Description

Kushal Vakta Kaise Bane By Lav Kumar Sinh

 

कुशल वक्ता कैसे बनें - लव कुमार सिंह

प्रभावशाली ढंग से बोलने या भाषण देने की कला


किसी सभा, सम्मेलन या गोष्ठी में किसी वक्ता को बेहद प्रभावशाली ढंग से बोलते देखकर आप सोचते होंगे कि ईश्वर या प्रकृति ने इस व्यक्ति को कितनी प्रतिभा बख्शी है, जो उसके एक-एक शब्द को लोग इतने ध्यान से सुन रहे हैं। उसकी हर बात के कायल हो रहे हैं। आपके मन में सवाल उठते होंगे, “क्या मैं कभी ऐसा बोल पाऊंगा? क्या मैं सफल वक्ता बन सकूंगा? मेरे पास तो ऐसी प्रतिभा नहीं है, फिर मैं ऐसा कैसे कर पाऊंगा?”इन सभी सवालों का जवाब है-हां।वास्तव में, प्रकृति ने वक्तृत्व कला के मामले में व्यक्तियों के बीच में बस दो ही बातों में अंतर किया है। एक चीज है आवाज और दूसरी है कद-काठी, जो हर व्यक्ति को अलग-अलग मिलती है। इनके अलावा बाकी सारे अंतर इसी दुनिया में पैदा होते हैं। प्रभावशाली ढंग से बोलने के सारे औजार इसी दुनिया में जुटाने होते हैं। ये औजार हैं तैयारी, अभ्यास, विषय का ज्ञान और बिना झिझक लोगों के सामने अपनी बात रखने का आत्मविश्वास। प्रकृति प्रदत्त आवाज और कद-काठी में भी प्रयास करके सुधार किया जा सकता है।

 


इसका मतलब मामला जन्मजात प्रतिभा का नहीं है। यदि आप कुशल वक्ता बनना चाहते हैं तो प्रयास करके ऐसा कर सकते हैं। इतिहास और वर्तमान के ज्यादातर प्रसिद्ध वक्ताओं ने प्रयास करके ही यह विशेषता हासिल की। यह पुस्तक इसी प्रयास में आपकी मददगार बनेगी। यह पुस्तक कुशल वक्ता बनने के लिए जरूरी हर औजार को जुटाने और उन्हें तराशने में आपकी सहायता करेगी। इसकी मदद से आप बोलने से पहले पैदा होने वाले डर को दूर भगा सकते हैं। यह आवाज को दमदार बनाने के तरीके भी बताती है और भाषण से पहले की तैयारी की भी जानकारी देती है। भाषण से ठीक पहले और भाषण के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां भी इसमें हैं तो भाषण के बाद किए जाने वाले उपाय भी शामिल हैं। कुल मिलाकर, इस पुस्तक के जरिए आप कुशल वक्ता बनने की अपनी राह को बहुत सुगम और सरल बना सकते हैं और किसी भी अवसर पर बेखौफ अपने विचार रख सकते हैं।
 

Subjects

You may also like
  • 21vi Sadi Me Swayam Ko Sthapit Kare
    Price: रु 225.00
  • Kala Lok Vyavahaar Ki
    Price: रु 80.00
  • Lok Vyavahaar Me Kushalta
    Price: रु 50.00
  • Body Language [Hindi Translation]
    Price: रु 150.00
  • Mahatvakanksha: Jivan Shikhar Par Pahuchne Ki Jadibutti
    Price: रु 110.00
  • Samay Ka Sadupayog
    Price: रु 100.00
  • Lok Samman Paane Ke Vyavaharik Kaushal
    Price: रु 110.00
  • Safalta Ki Aur…
    Price: रु 150.00
  • Aap Bhi Mahatvapurna He!
    Price: रु 125.00
  • Jaaniye, Achhi Baatchit Ki Kala
    Price: रु 70.00
  • Apni Karyakushalta Ka Gunan Karte Rahiye
    Price: रु 90.00
  • Safal Vyakti Safal Kyu Hote He?
    Price: रु 130.00