Categories
Authors List
Discount
Buy More, Save More!
> Minimum 10% discount on all orders
> 15% discount if the order amount is over Rs. 8000
> 20% discount if the order amount is over Rs. 25,000
--
Devlok With Devdutt Pattanaik Part 2 (Hindi Translation)
Devdutt Pattanaik
Author Devdutt Pattanaik
Publisher Manjul Publishing House
ISBN 9780143440468
No. Of Pages 235
Edition 2017
Format Paperback
Language Hindi
Price रु 199.00
Discount(%) 0.00
Quantity
Discount
Buy More, Save More!
Minimum 10% discount on all orders
15% discount if the order amount is over Rs. 8000
20% discount if the order amount is over Rs. 25,000
636316320953045464.jpg 636316320953045464.jpg 636316320953045464.jpg
 

Description

देवलोक  देवदत्त पटनायक के संग २ - देवदत्त पटनायक

 

 

Devlok With Devdutt Pattanaik Part 2 (Hindi Translation) By Devdutt Pattanaik

 


आपके सवाल, देवदत्त के जवाब - सीज़न 2 पर आधारित श्रोताओं व पाठकों द्वारा पूछे गए प्रश्नो के उत्तर

महाभारत का उल्लेखनीय कुटुम्ब सूर्य वंश कहलाता है अथवा चंद्र वंश?
रामायण किसी युग में घटित हुई थी? क्या यह केवल एक ही बार घटी थी?
पूजा की थाली में हल्दी, कुमकुम, भस्म और चंदन का क्या महत्व है?
करवा चौथ के प्रसिद्द व्रत से कौनसी कथा जुडी है?

देवलोक के आख्यानों, पौराणिक गाथाओं, देश-विदेश के मिथकों, अनुष्ठानो, कर्मकांडों, परम्पराओं व रीति-रिवाज़ों की मंत्रमुग्ध और विस्मित कर देने वाली इस अनूठी यात्रा में सहभागी बनने का आनंद हे कुछ और है |

यह पुस्तक हमारी संस्कृति और सभ्यता की जड़ों का प्रतिनिधित्व करती हैं. जब लेखक, सहज, सरल और बोधगम्य शैली में कठिन से कठिन दार्शनिक विषयों, चिंतन-मनन से जुड़े आख्यानों में छिपे प्रतीकों व सरल अर्थों को प्रकट करते हैं, तो उस समय वे उन जड़ों को संचित कर रहे हैं, जिनके बल पर आज हमारी अखंड संस्कृति रूपी सलिला, सदियाँ बीतने के बावजूद, गर्व से अक्षुण्ण प्रवाहित होती चली जा रही हैं |

लेखक के पास ऐसी रोचक व मनोरंजक कथाओं, तथ्यों, प्रसंगों व आख्यानों का भंडार है कि उन्हें सराहे बिना नहीं रहा जा सकता. केवल भारत का ही नहीं, विभिन्न सभ्यताओं की अदभुत व्याख्याएँ करने में सिद्धहस्त लेखक के पास अपने श्रोताओं, दर्शकों व पाठकों को बाँधे रखने की अदभुत कला है |

इस पुस्तक में आपको ध्यान व दर्शन, आस्तिक व नास्तिक, सूर्य वंश व चंद्र वंश में अंतर पता चलेगा. आपको अपने प्रिय हनुमान की विभिन्न कथाएं पढ़ने को मिलेंगी और साथ ही विष्णु के उग्र अवतारों, वराह व नरसिंह के विषय में भी जान सकेंगे. आप यह जान पाएँगे कि हमारे जीवन में लक्ष्मी व सरस्वती के बीच सदा संघर्ष क्यों रहता है और पौराणिक कथाओं में स्त्रियां सबसे दिलचस्प पात्रों की तरह क्यों उभरती हैं |

देवदत्त के साथ हिंदू पौराणिक गाथाओं के जादुई संसार की यात्रा पर निकल कर आप वहाँ से लौट कर आना नहीं चाहेंगे |

Subjects

You may also like
  • Nitya-Puja
    Price: रु 195.00
  • Neetishatak
    Price: रु 135.00
  • Geeta Gyan
    Price: रु 165.00
  • Bhagvad Geeta Ka Saar
    Price: रु 300.00
  • Mahabharat Katha
    Price: रु 180.00
  • Gita Rahasya
    Price: रु 425.00
  • Buddh Dharma Ki Kahaniyan
    Price: रु 100.00
  • Shri Shiv Mahapuran
    Price: रु 500.00
  • Sampurna Ramayan
    Price: रु 300.00
  • Anand Raah Dikhati Ramayan
    Price: रु 160.00
  • Jivan Raah Dikhati Ramayan
    Price: रु 160.00
  • Bhagwadgeeta
    Price: रु 395.00